भारत में बंगाल पूर्वोत्तर का प्रवेश द्वार हैःकेसरी नाथ त्रिपाठी

images2

फर्रूखाबादः पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने कहा कि भारत में बंगाल पूर्वोत्तर का प्रवेश द्वार है। जहॉ राष्ट्रीय सुरक्षा और विकास दोनों के लिये ही सड़क निर्माण कनेक्टीविटी बढ़ायें जाने की जरूरत है।
श्री त्रिपाठी कायमगंज के एक कालेज में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद कल सोमवार रात्रि करीब 7ः20 बजे फर्रूखाबाद शहर में लोहाई रोड स्थित प्रख्यात महिला चिकित्सक एवं भाजपा नेत्री डॉ0 रजनी सरीन के आवास पर जलपान करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। इससे पूर्व यहॉ श्री त्रिपाठी ने एन0ए0के0पी0 डिग्री कालेज की प्राचार्य आशा दुबे की मधुर आवाज में वंदे मात्रम गायन को भी सुना।

उन्होने बताया कि बंगाल पूर्वोत्तर प्रवेश द्वार है, जहॉ औद्योगिक एवं व्यवसायिक सम्भावनाएं बहुत हैं, यहॉ चाय बागान का बहुत बड़ा क्षेत्र है, कई बागान बन्द हुये और कई खुले हैं। जहॉ राष्ट्रीय सुरक्षा और विकास दोनों के लिये ही सड़क निर्माण कनेक्टीविटी बढ़ायें जाने की जरूरत है। एक प्रश्न के उत्तर में श्री त्रिपाठी ने कहा कि पश्चिम बंगाल व बांग्लादेश की सीमा पर बाढ़ तो लगी है। लेकिन कुछ जगह बिना बाढ़ वाली सीमा और नदियों के रास्ते घुसपैठिये जाली नोट लेकर भेजे जा रहे है। वैसे बंगाल में नकली नोट छापने के कारखाने पकड़े भी जा रहे हैं। इससे पहले जाली नोट पाकिस्तान नेपाल के रास्ते से आते थे। घुसपैठिया यहॉ एक बड़ी समस्या हैं। पश्चिम बंगाल में घुसपैठियों को नागरिकता व राशन कार्ड बनवाने के लिये रैकिट संचालित हैं। अवैध कारोबारी नदियों का इस्तेमाल करते है। कुछ क्षेत्रों में यह समस्या कम हुई है और अभी काम करने की जरूरत है।

उन्होने बताया कि बांग्लादेश से घुसपैठ करने वालों के लिये बी0एस0एफ0 और सी0आर0पी0एफ की सतर्कता से अवैध घुसपैठ करने वाले पकड़ जा रहे हैं और जो एक बार घुस आता है। तब उसका पता लगाने में कुछ परेशानी होती है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार के कामकाज के संबंध में पूंछे गये एक प्रश्न के उत्तर में उन्होने कहा कि राजनैतिक प्रश्न पर जवाब नहीं देंगे। फिर हंसते हुये चुटकी लेते हुये कहा कि राज्यपाल विधानसभा में अभिभाषण के दौरान कहते है कि प्रदेश में मेरी सरकार विकास कार्य कर रही है और आगे भी करेगी, यहॉ राज्यपाल ही सरकार होता है। इस अवसर पर भाजापा के सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी, व्यापार मण्डल के उपाध्यक्ष अरूण प्रकाश तिवारी उर्फ ददुआ, प्रांशु दत्त द्विवेदी, गुरूद्वारा के ज्ञानी गुरूवचन सिंह, मुस्लिम समाज के पप्पन मियां वारसी, एन0ए0के0पी0 डिग्री कलेज की प्राचार्य आशा दुबे आदि ने भी राज्यपाल श्री त्रिपाठी से मुलकात की।

सोशल मीडिया पर शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>